Divya Mathur

दिव्या माथुर रॉयल सॉसाययटी की फ़ेलो, अंतर्राष्ट्रीय ‘वातायन’ कविता संस्था की संस्थापक और आशा फ़ाउंडेशन की संस्थापक – सदस्य, आप अंतर्राष्ट्रीय हिंदी सम्मेलन की सांस्कृतिक अध्यक्ष, यू के हिंदी समिति की उपाध्यक्ष और कथा-यूके की अध्यक्ष रह चुकी हैं।आपने कई राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलनों में भाग लिया है। प्रस्तुत लेख इन्होंने जानकी देवी मेमोरीयल कालेज के ६०वें  वर्ष के दौरान एक वक्तव्य के तौर पर दिया।

CONVERSATIONS:
प्रवासी हिंदी महिला साहित्यकार और स्त्री चेतना

Leave a Reply

Your email address will not be published.